International Friendship Day: भारत में मित्रता दिवस (हैप्पी फ्रेंडशिप डे 2021) 1 अगस्त 2021 कोखिला। कोविड -19 (कोविद -19 में मित्रता दिवस 2021)

फ्रेंडशिप डे  2021


Friendship Day 2021: फ्रेंडशिप डे (Friendship Day) दुनियाभर  में बरे ही जोश और जुनून के साथ मनाया जाने वाला DAY  है. इंडिया में फ्रेंडशिप डे (Friendship Day 2021 in India) अगस्त के पहले रविवार को इस बार एक अगस्त (Friendship Day Date 2021) को मनाया जाएगा. कहते हैं दोस्त दूसरी फैमिली की तरह होते हैं, इसीलिए भारत के साथ ही दुनियाभर में इसे दिल खोलकर सेलिब्रेट किया जाता है. इंटरनेशनल फ्रेंडशिप डे (International Friendship Day 2021) ऑफिशियली 30 जुलाई को मनाया जाता है, लेकिन इंडिया और बांग्लादेश जैसे कई देशों में इसे अगस्त के पहले रविवार को मनाने का परंपरा है. 



कब हुई फ्रेंडशिप डे की शुरुआत

दुनिया में फ्रेंडशिप डे (Friendship Day History) की शुरुआत 1958 में हुई. 1958 में अगस्त के पहले रविवार के दिन अमेरिकी सरकार ने एक व्यक्ति की हत्या करवा दी. मरने वाले का एक करीबी दोस्त था, दोनों में बेहद गहरी दोस्ती थी. जैसे ही उसे अपने दोस्त के मरने की जानकारी मिली, उसने भी आत्महत्या कर अपनी जान ले ली. तब से ही अमेरिका की सरकार ने इस दिन को फ्रेंडशिप डे के रूप में मनाना शुरू कर दिया.



 Friendship Day 2021: फ्रेंडशिप डे (Friendship Day) दुनियाभर में जोश और जुनून के साथ मनाया जाता है. इंडिया में फ्रेंडशिप डे (Friendship Day 2021 in India) अगस्त के पहले रविवार यानी इस बार एक अगस्त (Friendship Day Date 2021) को मनाया जाएगा. कहते हैं दोस्त दूसरी फैमिली की तरह होते हैं, इसीलिए भारत के साथ ही दुनियाभर में इसे दिल खोलकर सेलिब्रेट किया जाता है. इंटरनेशनल फ्रेंडशिप डे (International Friendship Day 2021) ऑफिशियली 30 जुलाई को मनाया जाता है, लेकिन इंडिया और बांग्लादेश जैसे कई देशों में इसे अगस्त के पहले रविवार को मनाने का परंपरा है. 


कब हुई फ्रेंडशिप डे की शुरुआत

दुनिया में फ्रेंडशिप डे (Friendship Day History) की शुरुआत 1958 में हुई. 1958 में अगस्त के पहले रविवार के दिन अमेरिकी सरकार ने एक व्यक्ति की हत्या करवा दी. मरने वाले का एक करीबी दोस्त था, दोनों में बेहद गहरी दोस्ती थी. जैसे ही उसे अपने दोस्त के मरने की जानकारी मिली, उसने भी आत्महत्या कर अपनी जान ले ली. तब से ही अमेरिका की सरकार ने इस दिन को फ्रेंडशिप डे के रूप में मनाना शुरू कर दिया. 



फ्रेंडशिप डे का महत्त्व

दुनिया के कई रिश्तों से इतर दोस्ती ही एक ऐसा रिश्ता है जो अपने पार्टनर में लिंग, धर्म और जाति के बंधनों में नहीं देखता. इसे हर कोई दिल खोलकर मनाता है. ऐसा माना जाता है कि दुनियाभर में सांस्कृतिक, राजनीतिक और धार्मिक मतभेदों को दूर करने के लिए दोस्ती ही सबसे महत्त्वपूर्ण रिश्ता है. इसलिए दुनियाभर में इस दिन का दिल खोलकर स्वागत किया जाता है.


फ्रेंडशिप डे का इतिहास

बताया जाता है कि 20 जुलाई 1958 में यूरोप के पैराग्वे में संयुक्त राष्ट्र संघ के डॉ रेमन आर्टिमियो ब्रैको अपने दोस्तों के साथ डिनर कर रहे थे. इसी दौरान उन्होंने 'फ्रेंडशिप डे' का प्रस्ताव रखा. वहीं 30 जुलाई को विश्व मैत्री धर्मयुद्ध (World Friendship Crusade) ने भी इसे मनाने का प्रस्ताव दिया. उस दौरान यह संयुक्त राष्ट्र की नजरों में आया. तब स्कूल और कॉलेजों में दोस्त एक-दूसरे की कलाई पर फ्रेंडशिप बैंड जैसा धागा बांधा करते थे. स्कूल और कॉलेजों में मनाए जाने के बाद संयुक्त राष्ट्र संघ ने 27 अप्रैल 2011 को आधिकारिक तौर पर 30 जुन को अंतरराष्ट्रीय फ्रेंडशिप डे (International Friendship Day 2021) के रूप में मनाने की घोषणा की.