Latest Update:UP Bhagya Lakshmi Yojana बेटियों को मिलेंगे 2 लाख रुपये, अभी आवेदन करें 2022

UP Bhagya Lakshmi Yojana: बेटियों को मिलेंगे 2 लाख रुपये, अभी आवेदन करें

Latest Update:UP Bhagya Lakshmi Yojana बेटियों को मिलेंगे 2 लाख रुपये, अभी आवेदन करें 2022
Latest Update:UP Bhagya Lakshmi Yojana 

यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना नवीनतम अपडेट: उत्तर प्रदेश (उत्तर प्रदेश) सरकार ने लड़कियों के सुरक्षित भविष्य के लिए भाग्य लक्ष्मी योजना शुरू की है। यूपी की योगी सरकार ने गरीब परिवारों में लड़कियों के जन्म को बढ़ावा देने के लिए यह यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना (उत्तर प्रदेश भाग्य लक्ष्मी योजना) शुरू की है। इस योजना से राज्य में लड़कों से लड़कियों के अनुपात में भी सुधार होगा।

उत्तर प्रदेश में भाग्य लक्ष्मी योजना का उद्देश्य लड़कियों के भविष्य को मजबूत करना, उनकी शिक्षा के लिए आर्थिक बाधाओं को दूर करना और राज्य में लड़कियों की संख्या को कम करना है। यूपी सरकार की यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना (उत्तर प्रदेश भाग्य लक्ष्मी योजना) के पीछे एक मकसद कन्या भ्रूण हत्या को रोकना है।


भाग्य लक्ष्मी योजना क्या है: यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना अपडेट(UP Bhagya Lakshmi Yojana)

उत्तर प्रदेश में यदि किसी परिवार में लड़की का जन्म होता है तो सरकार उस परिवार को 50,000 रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान करती है। जब बेटी 21 साल की हो जाती है, तो राशि 200,000 रुपये हो जाती है। ध्यान रहे कि इस यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना का लाभ केवल उन्हीं परिवारों को मिलेगा जो गरीबी रेखा से नीचे (बीपीएल) जीवन यापन कर रहे हैं।


भागीलक्ष्मी योजना के लाभ(UP Bhagya Lakshmi Yojana)

यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना के तहत बेटी के जन्म पर यूपी सरकार लड़की की मां को 50,000 रुपये का बांड और 5100 रुपये की राशि देती है। जब लड़की 21 साल की हो जाएगी, तो उत्तर प्रदेश सरकार बांड के आधार पर लड़की के माता-पिता को 2 लाख रुपये देगी। साथ ही अगर बेटी छठी कक्षा में आती है तो 3000 रुपये, 8वीं कक्षा में आने पर 5000 रुपये,


भागीलक्ष्मी योजना के लिए आवश्यकताएँ -(UP Bhagya Lakshmi Yojana)

1.यह यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना (उत्तर प्रदेश भाग्य लक्ष्मी योजना) केवल 2006 के बाद पैदा हुई बेटियों के लिए है।

2.बेटी के जन्म के एक माह के भीतर आंगनबाडी पंजीकरण कराना अनिवार्य है।

3.इस योजना के लाभार्थियों की 18 वर्ष की आयु से पहले बेटी नहीं हो सकती है।

4.लड़की को सरकारी स्कूल में पढ़ाना होगा न कि किसी निजी स्कूल में।

5.योजना का लाभ उठाने के लिए उत्तर प्रदेश का निवासी होना चाहिए।

6.इस योजना में केवल बीपीएल परिवार ही शामिल हो सकते हैं।

7.पारिवारिक आय 200,000 रुपये प्रति वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए।

8.सरकारी कर्मचारी इस योजना का लाभ नहीं उठा सकते हैं।

9.पंजीकरण कैसे करें: यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना नवीनतम अपडेट

इस प्रकार यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना में रजिस्ट्रेशन के लिए आपको नजदीकी कॉमन सर्विस सेंटर यानी ई-दोस्ता सेंटर में जाना होगा। जिसमें आपको कोई रजिस्ट्रेशन फीस नहीं देनी होती है। पंजीकरण नि:शुल्क है। अगर हम दस्तावेजों की बात करें तो रजिस्ट्रेशन के लिए आपको उत्तर प्रदेश निवास प्रमाण पत्र, बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र, माता-पिता का आधार कार्ड, आय प्रमाण पत्र, घर के पते का प्रमाण, बैंक खाता विवरण की आवश्यकता होती है। इस योजना में रजिस्ट्रेशन बिल्कुल फ्री है। .


इन कागजों की आवश्यकता होगी।(UP Bhagya Lakshmi Yojana)

यूपी निवास प्रमाण पत्र, लड़की का जन्म प्रमाण पत्र, माता-पिता का आधार कार्ड, आय प्रमाण पत्र, उत्तर प्रदेश में घर के पते का प्रमाण, यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना के तहत पंजीकरण के लिए बैंक खाते जैसे दस्तावेज आवश्यक हैं।


यूपी सरकार ने इस योजना की शुरुआत की थी।(UP Bhagya Lakshmi Yojana)

उत्तर प्रदेश सरकार ने बेटियों के लिए एक योजना शुरू की है, जो 21 साल की उम्र में सक्रिय हो जाती है। वहीं बेटी की पढ़ाई का खर्चा सरकार देती है। बेटी के जन्म के साथ ही मां को सरकार की ओर से बेटी के लिए अलग से 5100 रुपये दिए जाते हैं। ताकि जल्दी पालन-पोषण में कोई परेशानी न हो। ऐसी है उत्तर प्रदेश सरकार की यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना (उत्तर प्रदेश भाग्य लक्ष्मी योजना)। यह योजना गरीबी रेखा से नीचे के बीपीएल कार्ड धारकों को दी जाती है। योजना का लाभ उत्तर प्रदेश के मूल निवासियों को ही दिया जायेगा।

Post a Comment

0 Comments